tension dur karne ka mantra-tips for tension free life in hindi Leave a comment

tension free life tips in hindi

आजकल की भाग दौड़ की जिंदगी मे अक्सर मानसिक तनाव हो जाता है ।इसके कारण हम अपने काम पर कभी ध्यान नहीं दे पाते ।अक्सर देखा गया गया है आजकल के युवक कंसंट्रेशन के बिना अपना काम नहीं कर पाते ।जॉब मे ध्यान नहीं लगा पाते।
आज हम आपको बताने जा रहे है महादेव शिव का कौन सा सा मंत्र है। जिस से आप अपने जीवन मे सफलता के शिखर पर पहुंच सकते है।


tension free life in hindi

आजकल लोग धन कमाने के लिए बहुत सारी टेंशन्स और स्वस्थ सम्बन्धी समस्याएं के शिकार हो जाते है। हर कोई तनाव दूर करने की कोशिस मे पैसा बहा देते है।लोग शारीरिक व्यायाम योग और दवाइयां अपनाते है। इस मंत्र से शरीर की जकड़न से राहत अवस्य मिल जाती है। फिर भी जो सफलता आपको मिलनी चाहिए, आपसे कोसो दूर रहती है। मानसिक बैचेनी से पीछा नहीं छूटा पाता। इसका सम्बन्ध पारिवारिक और विवाहिक जीवन से जुड़ा होता है। शास्त्रों मे ऐसे ही मानसिक परेशानी और स्ट्रेस को दूर करने के लिए जानिए एक ऐसा शिव मंत्र जो दूर करे। आपके सारे तनाव अवसाद दूर कर सकते हो।अपना आत्म-विश्वास जाग्रत कीजिये।इस मंत्र का लाभ ले सकते है । आपको यह मंत्र अपार सफलता दिलाएगा ।

तनाव कैसे दूर करे

जानिए एक ऐसा मंत्र जिस से आपके सारे तनाव अवसाद मे आपको अपार सफलता दिलाएगा। बहुत सारे मंत्र बताये गए है ।जिनका जाप करके आप बहुत सारे लाभ ले सकते है।आज हम आपको एक मंत्र बता रहे है जो की शक्ति के दाता भगवान शिव को अर्पित है। यह मंत्र बहुत ही प्रभावशाली व् चमत्कारी माना गया है। खासतौर से आप इसको सोमवार का दिन रखे ।यह दिन भगवान शिव का दिन माना गया है।आप सावन के महीने मे इसको जाप कर सकते है।अमावस्या के दिन आप इसको आरम्भ कर सकते है।


पापांतकाय भर्गाय नमो
नन्ताय वेधसे | नमो माया
हरेशाय नमस्ते लोकशंकर||

नमो रुद्राय महते सर्वेशाय
हितैषिणे नन्दी संस्थाय
देवाय विद्या भयकराराय च ||

ये शिव मंत्र आपको समृद्धि की कामना के साथ शांति की कामना पूरी करने वाला मन गया है। इस मंत्र के माद्यम से आपको मानसिक शांति मिलेगी ।यह पौराणिक शिव मंत्र बहुत ही विशेष शिवालय या घर के देवालय मे रखे । यह मंत्र भगवान शिव के समक्ष बैठकर भगवान शिव की पूजा करने के बाद पंचोपचार
आपके मन मे जॉब ही संकल्प है ।उसको बोलकर इस मंत्र का जाप आरम्भ करे।

Shiv Puja kaise kare

इस शिव मंत्र को शिव को गंध अक्षत फूल दीप से पूजा कर मन ही मन बोले ।अपने मन को स्वम शिव से जोड़ दे।

ये शिव मंत्र आपको समृद्धि की कामना के साथ शांति की कामना पूरी करने वाला माना गया है। इस मंत्र के माद्यम से आपको मानसिक शांति मिलेगी| यह पौराणिक शिव मंत्र बहुत ही विशेष शिवालय या घर के देवालय। यह मंत्र भगवान शिव के समक्ष बैठकर करे। भगवान शिव की पूजा करने के बाद पंचोपचार जिसे कहते है। गंध फल फूल आदि से पूजन करे


how to live tension free life in hindi

आपके मन मे जॉब ही संकल्प है उनको बोलकर इस मंत्र का जाप आरम्भ करे।इस मंत्र का जाप आपको हर प्रकार के डर से मुक्त हो जाते है। इस मंत्र का जाप आपको हर प्रकार कष्ट तनाव और दरिद्रता से दूर करेगा ।आपके जीवन मे आपसे सफलता का मार्ग जो छूट गया है आप उस मार्ग से विरक्त हो गए है। आपका कंसंट्रेशन कही न कही टूट जाता जाता है।हर प्रकार की परेशानी से आपको मुक्ति मिलेगी। आप सफलता को प्राप्त कर सकते है।

how to remove tension in hindi

भगवान महादेव बहुत जल्दी सब पर प्रसन्न हो जाते है।भगवान शिव को अगर कोई भक्त खुश करना चाहे तो कर सकता है। महादेव के महामृत्युंजय मंत्र से सारे कस्ट दूर हो जाते है। इस मंत्र के जाप मे अपार शक्ति है। महादेव से कोई पूज्य ने कोई नहीं है। महादेव के मंत्र अचूक है। उनके मंत्र मे बहुत शक्ति है। इस मंत्र का जाप करने से मात्रा सारी समस्याएं दूर हो जाती है। यह वो मंत्र है जिसको अगर जाप कर लिया जाये तो आप सफलता की सीढ़ी चढते है।

stress free life tips in hindi

भगवान शिव महामृत्युंजय मंत्रमहादेव के महामृत्युंजय मंत्र को महामंत्र कहते है। । इसमें भगवान शिव के महामृत्युंजय रूप से लंबी आयु की प्रार्थना करते है।

mahamrityunjaya mantra

ॐ त्र्यम्बक यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धन्म||
उर्वारुकमिव बन्धनामृत्येर्मुक्षीय मामृतात् ||


मंत्र के जाप करने के नियम-
महामृत्युंजय मंत्र का जाप सुबह -शाम किया जाता है।
मंत्र परेशानी और संकट के समय इस मंत्र का जाप करते है।
मंत्र का जाप रुद्राक्ष की माला से जाप करना अच्छा होता है।
mahamrityunjaya mantra का जाप भगवान शिव के चित्र या शिवलिंग के सामने करे ।
मंत्र का जाप के पहले शिवजी को बेलपत्र और जल चढ़ाये ।

tension free tips

एकाक्षरी महामृत्युंजय मंत्र

‘हौं’। स्वास्थ्य अच्छा रहे इसके लिए आपको सुबह उठकर इस मंत्र का जाप करें।
त्रयक्षरी महामृत्युंजय मंत्र- ‘ऊं जूं स:’ जब आपको छोटी-छोटी बीमारियां परेशान करती है तो ये मंत्र प्रभावशाली है। रात में आपको सोने के पहले इस मंत्र का कम से कम 27 बार जाप करें। अगर आप ऐसा करते है । ।इससे आपको कोई भी बीमारी या परेशान होगी ।

चतुराक्षी महामृत्युंजय मंत्र

‘ऊं हौं जूं स:’ सर्जरी और दुर्घटना जैसी संभावनाएं बनी रहती हो ।अगर ऐसा है। तो ये मंत्र लाभकारी होता है सुबह शिव जी को जल अर्पित कीजिये ।यह सब करने के बाद 3 बार माला जाप करे इस मंत्र से आप हर दुर्घटना से बच सकेंगे मे लाभकारी होंगे।

दशाक्षरी महामृत्युंजय महामंत्र

‘ऊं जूं स: माम पालय पालय’ इसको अमृत मृत्युंजय मंत्र भी कहते हैं जिसके लिए भी आप इस मंत्र का जाप कर रहे हो, उसका नाम इस मंत्र में प्रयोग करें। सबसे पहले तांबे के बर्तन में जल भरकर उसके सामने इस मंत्र का जाप करें। उसके पश्चात फिर उस जल को उसे पिलाएं। जिसको भी जिसे आयु या स्वास्थ्य की समस्या हो रही हों।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *