Ramayan Katha

Ramayan Katha- Ram naam ki mahima kya hai Leave a comment

Benefits of chanting Ram Naam

रामायण एक महाकाव्य पुरुषोत्तम भगवान् श्री राम की कथा है। Ramayan Katha श्री बाल्मीकि द्वारा लिखा गया एक धरम ग्रन्थ है। जो धर्म प्राण है, श्री राम की। संस्कृत का महाकाव्य है, रामायण। रामायण में 24000 श्लोक हैं। टीवी धारावाहिक में रामानंद सागर द्वारा निर्मित रामायण 1987-1998 के दौरान प्रसारित किया गया था।


Ramayan का टाइटल संगीत बाल काण्ड से लिया गया है संगीत को सुनने के इस लिंक पर क्लिक करें
Bal Kand Ramayan  Song  Source: gaana.com

What is the meaning of Ramayan?

राम का चरित्र, राम के चरित्र से संबंधित ग्रंथ को रामायण कहा जाता है। रामायण बाल्मीकि जी द्वारा तथा रामचरितमानस गोस्वामी तुलसीदास जी द्वारा लिखी गई जिसमे 7 काण्ड हैं।


बाल कांड, अयोध्या कांड, अरण्य कांड, किष्किंधा कांड
सुन्दर कांड, उत्तर कांड, युद्ध कांड

Ramayan Katha

Ram naam ki mahima kya hai?

होइहि सोइ जो राम रचि राखा। को करि तर्क बढ़ावै साखा॥
अस कहि लगे जपन हरिनामा। गईं सती जहँ प्रभु सुखधामा॥

सतयुग और अन्य युग में जहाँ हजारों लाखों वर्ष ईश्वर को प्राप्त करने में लग जाते थे, वो इस कलियुग में नहीं है। यहाँ तो मात्र तीन दिन भी कोई भगवान् के लिए रोये तो उसे ईश्वर दर्शन होना पूर्ण रूप से सम्भव है।

Has anyone really seen Krishna?

जिसकी चेतना का उदय हो चूका है, जो हर समय हर साँसों में बस हरी नाम ही भजता है और सर्वत्र हरी दर्शन ही करता है, वह तो कृष्णा को ही हर वक़्त देखता रहता है। Ramayan Katha का असली मर्म यही है।

जिस व्यक्ति में ये तीनो चीजे हैं, वो कभी भी भगवान को प्राप्त नहीं कर सकता या भगवान की द्रष्टि उस पर नहीं पड़ सकती। ये तीन हैं लज्जा, घृणा और भय।
Ramakrishna PaRamhansa

असलियत में इन साधारण नेत्रों से श्री कृष्णा को देखना संभव ही नहीं। जब ये आँखे प्रेम की हो जाती हैं, मन प्रेम का हो जाता है तब ही देखना संभव है।उनसे बातचीत भी की जाती है। यह एक बहुत ही उच्च श्रेणी के साधक की बात यहाँ कही जा रही है। अध्यात्म एक जीवन जीने की कला है। जो इस कला को सीख गया वह जीते जी मुक्त हो जाता है।

शुद्ध ज्ञान और शुद्ध प्रेम एक ही चीज हैं। ज्ञान और प्रेम से जिस लक्ष्य को हासिल किया जा सकता हैं वो एक ही हैं और इसमें भी प्रेम वाला रास्ता ज्यादा आसान है।
– Ramakrishna PaRamhansa

What was the age of Ravana as per Ramayana?

Ramayan Katha के अनुसार रावण का जन्म सत्ययुग में हुआ था। रावण तब 12,00,000 साल के थे श्री राम ने रावण का वध त्रेतायुग के अंत में किया था।

Ramayan Katha

Valmiki ji ka asali naam kya tha?

रत्नाकर वाल्मीकि जी का असली नाम था।

Arya kon hain?

आर्य वह है जो सत्य, अहिंसा, परोपकार आदि व्रतों का विशेष रूप से पालन करता है। आर्य किसी व्यक्ति विशेष को कहने की कोई जाति नहीं होती। आर्य तो धर्म रक्षक सबका हितेषी तथा सभी का प्रिय होता है। वास्तव में देखा जाए तो किसी भी वेद पुराणों में आर्य की कोई जाति धर्म विशेष स्पष्टता नहीं मिलती है। Ramayan Katha परमपुरुषोतम परब्रह्म भगवान् राम का चरित्र है, इसे किसी धर्म या जाति विवाद से जोड़ना गलत है।


Kya arya bahar se aye the?

आर्य शब्द का अगर हम शाब्दिक अर्थ देखें तो वह विशेष या श्रेष्ठ होता है। आर्य नाम से कोई जाति या नस्ल कभी हुई ही नहीं। आर्य रामायण में श्री राम को आर्यपुत्र के नाम से भी सम्बोधित किया जाता है। विदुरनीति में जो धार्मिक है ऐसे व्यक्ति को आर्य के नाम से सम्बोधित किया जाता है। दूसरी ओर चाणक्यनीति में जो गुनी जन होते हैं, उन्हें आर्य के नाम से सम्बोधित करते हैं।

Ramayan  serial mein Ram ka role kisne kiya tha full name

प्रोड्यूसर-डायरेक्टर रामानंद सागर द्वारा निर्मित Ramayan Katha में अरुण गोविल बने थे। रामानंद सागर ने इस सीरियल में राम के किरदार के लिए अरुण गोविल और सीता के किरदार के लिए दीपिका चिखलिया को चुना था।

Ramayan Katha

Bangla Ramayan  nahi mil raha hai?

आप बांग्ला रामायण निम्लिखित लिंक पर क्लिक कर के ऑनलाइन खरीद सकते हैं।
Bangla Ramayan
source: www.infibeam.com

Ramayan  title song kis kand se liya gaya hai?

Ramayan Katha का टाइटल संगीत बाल काण्ड से लिया गया है। संगीत को सुनने के इस लिंक पर क्लिक करें-
Bal Kand Ramayan  Song
Source: gaana.com

Ramayan Katha

Ramayan sangeet kaise download karen?

रामायण संगीत सुनने और डाउनलोड करने के लिए आप निम्न लिंक पर क्लिक करे-
Ramayan  Song
Source: gaana.com

Are Ramayan  and Mahabharata real?

रामायण और महाभारत दोनों सत्य हैं। रामायण को ऋषि बाल्मीकि जी ने लिखा और रामचरित मानस को तुलसीदास जी ने आप रामायण का स्पष्ट प्रमाण देख सकते हैं। राम सेतु और वही श्री कृष्णा द्वार बोली गई गीता और उनकी द्वारिकाधीश जो समुद्र में पूर्ण रूप से समाई हुई है।

What is the basic difference between Mahabharat and Ramayan?

Ramayan Katha सिखाती है वसुधैव कुटुम्बकम की भावना को कैसे जागृत किया जाए तथा महाभारत जहाँ यह स्पष्ट रूप से केवल अपने अधिकार और केवल मेरा और मेरा की अवधारणा से भरा हुआ है। जहाँ भाई-भाई आपस में ही एक दूसरे के दुश्मन बन जाते हैं।

Ramayan Katha

रामायण ज्यादातर अवधारणा देने पर आधारित है, यह बलिदान पर आधारित है। एक राजा जो बिना किसी हिचकिचाहट के अपने राज्य को त्याग सकता है। वहीँ दूसरी ओर महाभारत राज्य की इच्छा रखने की वासना पर आधारित है। यह सहनशीलता पर आधारित है। उनके अधिकारों के लिए युद्ध की यात्रा।

What are the names of Ramayan  Kand?

बाल्मीकि द्वारा रचित रामायण में कूल 8  काण्ड हैं-

बाल कांड, अयोध्या कांड, अरण्य कांड, किष्किंधा कांड
सुन्दर कांड, लंका कांड, उत्तर कांड, युद्ध कांड

What are the benefits of chanting Ram Naam?

नहिं कलि करम न भगति बिबेकू। राम नाम अवलंबन एकू॥
कालनेमि कलि कपट निधानू। नाम सुमति समरथ हनुमानू॥

इस कलिकाल में केवल नाम सुमिर ही उद्धार का माध्यम है। बिना हरी नाम के इस इस कलिकाल में उद्धार का उपाय ही नहीं है।

Ramayan Katha

 

हरे राम हरे राम, राम राम हरे हरे।।

इस कलियुग में इस मंत्र का जप करने से ही चेतना का उदय जीते जी होना संभव है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *