What is Shani Dosh ? Shani Dosh Kya Hai ?

 Problems facing shani shade Shani Dosh Nivaran Upay   bimari khatam(rog nivaran)karne ke upay:-

Horoscopes, transit, Saturn, bad effects, Problems facing shani shade , relief, constellation, Gresham लम्बी बीमारी (rogo se chutkara) हो या हो कोई भी दोष तुरंत होंगे समाप्त , आज ही घर लाये अभिमंत्रित शनि यंत्र. बीमारी के नाम सुनते ही हम और भी ज्यादा परेशान हो  जाते है और अगर उसे हमेशा के लिए ख़त्म करने का इलाज मिल जाए तो उस से अच्छी बात क्या हो सकती है बीमारी के कारण क्या है यह जानना बहुत जरुरी है और बीमारी की रोकथाम निवारण उससे भी ज्यादा जरुरी है बीमारियों से बचने के लिए ज़रूरी है उस का कारण जानना  कैसी भी बीमारी हो  maansik bimari, dimag ki bimari , mansik rog /tanav, dimag ki naso ki kamzori , etc आज ही जानिए

Problems facing shani shade

Shani Dosh Causes and Problems facing shani shade Its Effects & Bad Shani (Staurn) in your life.:-

शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या के प्रभाव,लक्षण और उपाय:-

शनि की ढैय्या, शनि के गोचर का प्रभाव. ( Problems facing shani shade ) किंतु साढ़ेसाती, साढ़ेसाती और प्रकोप से बचने तथा घर मान समान में वृद्धि के लिए अभिमंत्रित शनि यंत्र एक रामबाण उपाय है. साढ़ेसाती ढैय्या ना भी हो तब भी शनि जातक की कुंडली में अपनी बैठकी के अनुसार राशि परिवर्तित होते ही अपना असर दिखाना शुरू कर देते हैं। इससे बचना है तो हम आपके लिए कुछ सरल उपाय शनि यंत्र एक रामबाण उपाय है   इसे घर में रखते है शनि देव की कृपा दृष्टि प्राप्त होती है और उसके सारे दुःख समाप्त हो जाते 

Problems facing shani shade

Shani Shanti Yantra to remove Problems facing shani shade :-

शनि देव को प्रसन्‍न करने और उनकी कृपा पाने के लिए आप अपने पास हमेशा शनि यंत्र रखें। कुंडली में शनि देव को कुप्रभाव को कम करता है शनि यंत्रशनि यंत्र की पूजा करने से शनि देव प्रसन्न होते हैं.  शनि को न्याय का देवता माना जाता है  शनि किसी भी कुंडली में सबसे लंबे समय तक प्रभावित करने वाले ग्रह माने जाते हैं अभिमंत्रित शनि यंत्र को जैसे ही घर में स्थापित होता है तो यह अपने आस पास एक देवीय ऊर्जा का निर्माण करता है जिससे घर में फैली नकरात्मक ऊर्जा तुरंत नष्ट होती है. यह व्यक्ति के कुंडली में अशुभ ग्रह को निष्प्रभावित कर व्यक्ति के दोषो को खत्म कर देता है.

Problems facing shani shade

Shani Shanti Yantra istaml kyu kiya jata hai :-

शनि यंत्र का प्रयोग किसी कुंडली में अशुभ शनि द्वारा बनाए जाने वाले दोषों को कम करने के लिए अथवा Problems facing shani shade or  उनके निवारण के लिए किया जाता है तथा इसके अतिरिक्त शनि यंत्र का प्रयोग शनि ग्रह की सामान्य तथा विशिष्ट विशेषताओं के साथ जुड़े लाभ प्राप्त करने के लिए भी किया जाता है यंत्रों का विधिवत पूजन करने से अशुभ ग्रह भी शुभ फल देने लगता हैं शनि प्रतिकूल होने पर अनेक कार्यों में असफलता देता है, कभी वाहन दुर्घटना, कभी यात्रा स्थागित तो कभी क्लेश आदि से परेशानी बढ़ती जाती है यदि इस दिन शनि यंत्र की स्थापना की जाए तो बहुत ही शुभ फल प्राप्त होते हैं

 

जब शनि हमारे प्रतिकूल होता है तो हमे हमारे अधिकत्तर कार्यो में असफलता हासिल होती है. उद्धारण के लिए कई बार व्यक्ति की यात्रा स्थगित हो जाती है कभी वाहन दुर्घटना हो जाती है कभी कलेश आदि से परेशानी बढ़ती है

Shani Ashubh Shani Symptoms Shani Grah Shani Problems

परेशानियों का सामना:- 

जीवन में किन परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है तो कभी व्यक्ति किसी बीमार से ऐसा ग्रसित हो जाता है की उस बीमारी को कई महीने बीत जाने पर भी वह ठीक होने के नाम नहीं लेती ऐसी स्थिति में यदि घर में अभिमंत्रित शनि यंत्र स्थापित किया जाए तो हमे इन सारी परेशानियों से मुक्ति मिलती है.

Problems facing shani shade

अभिमंत्रित शनि यंत्र से शनि देव प्रसन्न होते है तथा उनकी विशेष कृपा व्यक्ति को प्राप्त होती है. नौकरी पेशा अथवा व्यपारी व्यक्तियों के लिए भी शनि यंत्र बहुत ही फलदायी होता है यह व्यक्ति के प्रमोशन एवं व्यापार में लाभ के योग बनाता है.

Some of the important Rudrabhishek to remove shani dosha are following:-

How to Remove Shani Dosha & OVERCOME SHANI SAADE SAATI?

Shani’s Remedies (शनि यंत्र स्थापित करने की विधि) :-

शनिवार वाले दिन प्रातः जल्दी उठ स्नान आदि की क्रिया कर घर के मंदिर में श्रद्धापूर्वक यंत्र को प्रतिष्ठापित करे. अब अभिमंत्रित शनि यंत्र के समाने तिल के तेल का दीपक जलाकर शनि देव का ध्यान करे. अब नील रंग के पुष्प को शनि यंत्र में स्थापित कर निचे दिए गए मन्त्र का 11 बार जप करे. अब आप रोज सुबह शाम इस शनि यंत्र के समाने तेल का दीपक जलाया करे.
इससे शनि देव प्रसन्न होंगे और उनकी कृपा आप पर और आपके पुरे परिवार पर बरसेगी. तथा आपके सभी समस्या और दोष खत्म हो जाएंगे.

Problems facing shani shade

शनि मंत्र
ऊँ शं शनैश्चराय नम:

Shani/Saturn’s Protective Shield

अभिमंत्रित शनि यंत्र की विशेषता:- 

अगर आपके कुंडली में शनि अशुभ स्थान पर है या आप शनि की ढैय्या अथवा साढ़े साती से परेशान आपको हर कमा में असफलता ही मिल रही है और आप के परिवार में कोई सदस्य लम्बे बिमारी से परेशान है तो इसका मुख्य कारण है आपसे शनि का रुष्ट होना .
घर पर अभिमंत्रित शनि यंत्र स्थापित करने मात्र से शनि देव प्रसन्न होते है तथा उनकी विशेष कृपा आप पर बरसती है.

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शनि प्रतिकूल होने पर अनेक कार्यों में असफलता देता है, कभी वाहन दुर्घटना, कभी यात्रा स्थागित तो कभी क्लेश आदि से परेशानी बढ़ती जाती है ऐसी स्थितियों में केवल एक मात्र अभिमंत्रित शनि यंत्र ही आपको इन परेशानियों से मुक्ति दिला सकता है.